Tuesday, 24 March 2020 11:30

31 मार्च तक सावधानी रखी तो टूट जाएगी संक्रमण की चेन

Written by
Rate this item
(0 votes)

वायरस को तीसरे चरण में प्रवेश करने से रोकने की कोशिश

नई दिल्ली। कोरोना से बचाव के लिए पूरे देश में कई तरह से प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं। लोग घर में लगभग बंद होते जा रहे हैं। बात मध्य प्रदेश की करें तो यहां अभी तक कोरोना का एक भी मरीज नहीं मिला है। ऐसे में लोगों के मन में सवाल उठ रहा है कि ये प्रतिबंध क्यों लगाए जा रहे, वह भी 31 मार्च तक? इसका जवाब है- कोरोना के संक्रमण को देश में तीसरे चरण में प्रवेश करने से रोकना। इसके पहले चरण में ही रोक की कोशिश की जा रही है। कोरोना का वायरस मानव शरीर में 14 दिन का जीवन सर्कल पूरा करता है। इसके बाद खत्म हो जाता है। अभी 19 मार्च है। 31 मार्च तक नए मरीज सामने नहीं आएंगे तो इसका मतलब होगा कि कोरोना का संक्रमण अपने अगले चरण में नहीं पहुंचा। इसके देश में महामारी के रूप में तब्दील होने की आशंका कम हो जाएगी। यदि लापरवाही बरती और कोरोना तीसरे चरण में पहुंच गया तो फिर इस पर नियंत्रण करना मुश्किल काम हो जाएगा। यह पूरे देश में महामारी के रूप में बदल जाएगा।

 1 : इस स्थिति में वहीं लोग कोरोना से संक्रमित पाए जाते हैं, जिन्होंने संक्रमण वाले विदेश की यात्रा की होती है। यह कुछ लोगों तक सीमित रहता है।
स्टेज 2 : कोरोना संक्रमित से उसके परिजनों और एकदम करीबी लोगों में फैलता है। स्टेज वन-व-टू में सोर्स पता रहता है कि किससे फैल रहा है। अभी हमारे देश में यही स्थिति है।
स्टेज 3 : संक्रमित व्यक्ति, बाहर घूमता है और कई लोगों के संपर्क में आता है तो फिर पूरी कम्युनिटी (समाज) में यह फैलना शुरू हो जाता है। इसमें मरीज को भी नहीं पता होता कि उसे कहां से वायरस लगा। इटली और स्पेन में यही स्थिति है।
स्टेज 4 : पूरे देश में सभी जगह यह फैलना शुरू हो जाता है। तब पता नहीं चलता कौन इसे फैलाता है। इस दौरान यह महामारी का रूप ले लेता है। यह कब खत्म होगा, पता नहीं चलता। चीन में यही सब कुछ हुआ।

 

Read 4 times

संग्रहीत न्यूज