Headlines:

Hottest News

Advt....

राजस्थान
राजस्थान

राजस्थान (3)

क्षेत्र के जोजावर की एक निजी स्कूल की बस गुरुवार सुबह भगोड़ा के पास पलट गई। इसमें एक बच्चे की घटनास्थल पर मौत हो गई। जबकि तीस से अधिक बच्चे जख्मी हो गए। इनमें से गंभीर रूप से जख्मी आठ बच्चों को पाली रैफर किया गया है।

 

जोजावर के नवीन विद्यालय की बस गुरुवार सुबह क्षेत्र के बच्चों को लेकर आ रही थी। इस दौरान चालक ने लेट होने से बचने के लिए बस को तेज गति से भगाना शुरू कर दिया। भगोड़ा के निकट एक मोड़ पर बस असंतुलित होकर पलट गई। हादसे के बाद बस में फंसे बच्चे मदद के लिए चिल्लाने लगे।

 जोजावर के नवीन विद्यालय की बस गुरुवार सुबह क्षेत्र के बच्चों को लेकर आ रही थी। इस दौरान चालक ने लेट होने से बचने के लिए बस को तेज गति से भगाना शुरू कर दिया। भगोड़ा के निकट एक मोड़ पर बस असंतुलित होकर पलट गई। हादसे के बाद बस में फंसे बच्चे मदद के लिए चिल्लाने लगे।

 

 

 

क्षेत्र के लोगों ने मौके पर पहुंचकर राहत कार्य शुरू किया और उन्होंने बस में फंसे बच्चों को बाहर निकालना शुरू किया। एक बच्चे की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। उसकी अभी तक पहचान नहीं हो पाई है। इसके बाद सभी घायलों को जोजावर के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया।

 

 

 

सूचना पाकर बच्चों के अभिभावक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंच गए। वहां लोगों की भारी भीड़ एकत्र हो गई। अफरा-तफरी के बीच सभी बच्चों का यहां प्राथमिक इलाज किया गया।

क्षेत्र के लोगों ने मौके पर पहुंचकर राहत कार्य शुरू किया और उन्होंने बस में फंसे बच्चों को बाहर निकालना शुरू किया। एक बच्चे की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। उसकी अभी तक पहचान नहीं हो पाई है। इसके बाद सभी घायलों को जोजावर के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया।

 

सूचना पाकर बच्चों के अभिभावक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंच गए। वहां लोगों की भारी भीड़ एकत्र हो गई। अफरा-तफरी के बीच सभी बच्चों का यहां प्राथमिक इलाज किया गया।

 

शनिवार को शहर में अंतरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव की शुरुआत की गई। इस दौरान लोग राजस्थानी रंग में रंगे दिखाई दिए। वहीं सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भवई नृत्य सहित कलाकारों ने कई नृत्य किए। कलाकारों के नृत्य को देखकर जूनागढ़ देखने पहुंचे विदेशी सैलानी भी अपने को नहीं रोक पाए और कार्यक्रम में नृत्य करने लगे।  

 

 

ऊंट उत्सव के पहले दिन 12 जनवरी को देशी-विदेशी पर्यटकों के लिए गांव रायसर में कैमल सफारी एवं कैमल राइडिंग का आयोजन किया गया। यह आयोजन सुबह 8 से सुबह 10 बजे तक रहा। पर्यटन स्वागत केंद्र पर पर्यटकों को गांव रायसर ले जाने के लिए बस उपलब्ध करवाई गई। 

 

12 जनवरी

 

ऊंट शृंगार प्रतियोगिता
ऊंट बॉल कतराई प्रतियोगिता
आरएसी बैंड वादन
ऊंट नृत्य प्रतियोगिता
मिस मरवण प्रतियोगिता
मिस्टर बीकाणा प्रतियोगिता
सांस्कृतिक प्रस्तुतियां

 

13 जनवरी

 

हैरिटेज वॉक
पुरुष रस्साकशी प्रतियोगिता
महिला रस्साकशी प्रतियोगिता
कबड्डी खेल (प्रदर्शन मैच)
साफा बांध प्रतियोगिता (विदेशी पर्यटक)
ऊंट नृत्य
महिला मटका दौड़ प्रतियोगिता
महिला म्युजिकल चेयर प्रतियोगिता
राजस्थानी सांस्कृतिक प्रस्तुतियां
अग्नि नृत्य 

 

शनिवार को शहर में अंतरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव की शुरुआत की गई। इस दौरान लोग राजस्थानी रंग में रंगे दिखाई दिए। वहीं सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भवई नृत्य सहित कलाकारों ने कई नृत्य किए। कलाकारों के नृत्य को देखकर जूनागढ़ देखने पहुंचे विदेशी सैलानी भी अपने को नहीं रोक पाए और कार्यक्रम में नृत्य करने लगे।  

 

 

ऊंट उत्सव के पहले दिन 12 जनवरी को देशी-विदेशी पर्यटकों के लिए गांव रायसर में कैमल सफारी एवं कैमल राइडिंग का आयोजन किया गया। यह आयोजन सुबह 8 से सुबह 10 बजे तक रहा। पर्यटन स्वागत केंद्र पर पर्यटकों को गांव रायसर ले जाने के लिए बस उपलब्ध करवाई गई। 

 

12 जनवरी

 

ऊंट शृंगार प्रतियोगिता
ऊंट बॉल कतराई प्रतियोगिता
आरएसी बैंड वादन
ऊंट नृत्य प्रतियोगिता
मिस मरवण प्रतियोगिता
मिस्टर बीकाणा प्रतियोगिता
सांस्कृतिक प्रस्तुतियां

 

13 जनवरी

 

हैरिटेज वॉक
पुरुष रस्साकशी प्रतियोगिता
महिला रस्साकशी प्रतियोगिता
कबड्डी खेल (प्रदर्शन मैच)
साफा बांध प्रतियोगिता (विदेशी पर्यटक)
ऊंट नृत्य
महिला मटका दौड़ प्रतियोगिता
महिला म्युजिकल चेयर प्रतियोगिता
राजस्थानी सांस्कृतिक प्रस्तुतियां
अग्नि नृत्य