Headlines:

Hottest News

Advt....

Thursday, 01 October 2020 15:48

चयनित होमगार्ड अभ्यर्थियों का धरना चौथे दिन भी जारी, समर्थन में आई कांग्रेस

Written by
Rate this item
(0 votes)

धनबाद: धनबाद में बुनियादी प्रशिक्षण से वंचित नव चयनित होमगार्ड अभ्यर्थियों का धरना गुरुवार को भी लगातार चौथे दिन जारी रहा. इसी कड़ी में धनबाद जिला कांग्रेस कमिटी के जिला अध्यक्ष ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह, जिला कार्यकारी अध्यक्ष रविंद्र वर्मा ने धरनार्थियों से मिलकर उन्हें आश्वस्त कराया कि वर्तमान सरकार उनके प्रति संवेदनशील है. जिले के रणधीर वर्मा चौक पर बुनियादी प्रशिक्षण से वंचित नव चयनित होमगार्ड अभ्यर्थियों के चौथे दिन कांग्रेस पार्टी उनके समर्थन में आगे आई. जिला अध्यक्ष समेत अन्य कांग्रेसी नेताओं ने उनसे मुलाकात की. धनबाद जिला कांग्रेस कमिटी के जिला अध्यक्ष ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह, जिला कार्यकारी अध्यक्ष रविंद्र वर्मा धरनार्थियों से मिलकर उन्हें आश्वस्त कराया कि वर्तमान सरकार उनके प्रति संवेदनशील है.क्या कहते हैं जिला अध्यक्षब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा वित्तमंत्री एवं कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष को मामले से अवगत कराएंगे. किसी भी सरकार में वित्तमंत्री सरकार की रीढ़ के समान होता है. उन्होंने कहा पिछले तीन वर्ष पूर्व ही बहाली निकाल चुके अभ्यर्थियों को बुनियादी प्रशिक्षण से जोड़ने और उन्हें नियुक्ति पत्र देने मे अब बिल्कुल भी विलंब नही किया जाना चाहिए.पूर्व की सरकार की नाकामी का परिणामजिला कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा चयनित होमगार्ड अभ्यर्थी, सहायक पुलिस कर्मी या फिर पारा शिक्षक इन सब ने संघर्ष किया और करते आ रहे हैं. पूर्व की सरकार ने इनके प्रति सहानभूति नहीं दिखाई. आज परिणाम है कि इन्हें अपनी जायज मांगों के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है. राज्य में कांग्रेस जेएमएम की सरकार है. यह सरकार सभी के प्रति संवेदनशील होकर सोचती और विचार करती है. पारा शिक्षकों की समस्याओं पर यह सरकार ने संज्ञान लिया. सहायक पुलिस कर्मियों को भी आश्वासन दिया गया है. निश्चित तौर पर होमगार्ड के समस्याओं का भी निराकरण किया जाएगा.अकाउंट से काटे गए पैसेपिछले तीन वर्षों से सभी चयनित 735 अभ्यर्थी बुनियादी प्रशिक्षण पाने के लिए वेट एंड वॉच में है. होमगार्ड रांची मुख्यालय, धनबाद एसएसपी और उपायुक्त की ओर से विगत तीन वर्षों से प्रशिक्षण में भेजने के नामपर इन्हें केवल आश्वाशन ही मिलता आ रहा है. प्रशिक्षण के लिए लिस्ट भी जारी हो चुकी है. विभाग जांच का हवाला दे रही है. सभी अभ्यर्थियों का एसबीआई हीरापुर ब्रांच में पुलिस सर्विस पैकेज अकॉउंट (पीपीएस) भी खोल दिया गया है. अकॉउंट खोलने में सभी से 500 रु बैंक की ओर से जमा भी लिया गया.ये भी पढ़ें: प्रेझा फाउंडेशन के पहल से 112 नर्सिंग स्टूडेंट को मिली नौकरी, सीएम ने की तारीफ.मांगों पर विचार नहींअभ्यर्थियों का कहना है कि अब अकॉउंट से राशि भी काटी जा रही है. बहाली निकालने के बाउजूद तीन वर्षों से खाली बैठे अभ्यर्थियों की स्थिति दयनीय हो

Read 51 times