Headlines:

Hottest News

विज्ञापन------------

Wednesday, 24 March 2021 15:24

जमीन किसी और का मालिक कोई और बन बैठा

Written by राजेश कुमार, शंकर गुप्ता
Rate this item
(0 votes)

बरकट्ठा: बरकट्ठा प्रखंड के उत्तरी पंचायत निवासी मशोमात सेवली, मसमात जगनी तथा मशोमात मालती इन सभी लोगों का जमीन खाता नंबर 203 में मूर्तियां गगोवार तथा बंधु गोवार के नाम से खतियान दर्ज है , जोकि खाता नंबर 199 मशोमात करमी के नाम से दर्ज है जिसमें मूर्तियां गोवार के द्वारा खरीदगी की गई है। जो कि यह खरीदगी जमीन मूर्तियां गोवार का अपना प्रॉपर्टी है। जिसमें सिर्फ मूर्तियां गोवार के वंशजों को बिक्री करने का हक बनता है ।लेकिन 203 नंबर खाता मे मूर्तिया गोवार के वंशज तथा बंधु गोवार के वंशज को बेचने का हक बनता है। इसी दरमियान बंधू गोवार का वंशज विष्णु यादव पिता बंधु गोवार, जगदीश यादव, सीताराम यादव दोनों के पिता भत्तन यादव , सुजान यादव पिता विषुण यादव इन सभी लोग मिलकर खाता नंबर 199 में प्लॉट नंबर 3525 रखवा 0.4 डिसमिल भूमि मनीष कुमार,अनीश कुमार दोनों के पिता लक्ष्मण चौधरी के पास जाली पेपर द्वारा फर्जी  फर्जी तरीके से विक्री किया है। जो की बिक्री करने के दरमियान रजिस्ट्री में रसीद किसी और का जमीन किसी और का खतियान किसी और का पेपर सेट करके इन लोगों ने फर्जी तरीके से बिक्री किया है जब जमीन पर इन लोगों ने दावा खोदने का काम शुरू किया तब जमीन के रैयतो को पता चला तो वहां पर आकर काम रुकवाने का कोशिश किया लेकिन काम ना रोकते हुए उन लोगों ने उसके साथ मारपीट गाली गुप्ता करते हुए बताया कि यह जमीन हम लोग बिक्री किए हैं हम लोगों के पास कोई तरह का जमीनी पेपर नहीं है। तुम लोगों को ब्लॉक थाना कोर्ट डीसी तथा मुख्यमंत्री पास जहां भी जाना है वहां जाओ हम लोग लाठी के बल पर और सारा जमीन को बेचेंगे। इसी बीच रैयत अपना पेपर लेकर थाना ,ब्लाक तथा कोर्ट का चक्कर लगाकर परेशान है। जमीन का मालिक पेपर को लेकर इधर से उधर भटक रहा है ।और बिना पेपर का मालिक जमीन बिक्री करके रैयतों के साथ जमीन हड़पने की कोशिश में बराबर उसके साथ मारपीट गाली गुप्ता करते हुए चले आ रहे हैं ।जब रैयत थाना में जाती है और बताती है कि मेरे साथ जमीन विवाद लेकर मारपीट गाली गुप्ता किया जा रहा है तो वहीं थाना वाला बताते हैं यह जमीनी विवाद है इसमें हम कुछ नहीं कर सकते आप लोग अंचल जा कर आवेदन दीजिए। रैयत अंचल जाकर सिओ तथा सीआई से मिलकर बताती है जमीन को लेकर हमारे साथ मारपीट गाली गुप्ता किया जा रहा है तो सीओ तथा सीआई बताते हैं की मारपीट का मामला है आप थाना जाकर बताएं रैयत थक हार कर मारपीट गाली गुप्ता खाते हुए अपने घरों में बंद रहकर किसी तरह अपना जान बचा रही है। जबकि एस डी एम (ताराचंद )के पास आवेदन लेकर मशोमात मालती गई थी तो वह बताए थे कि आपके पास जमीन रिलेटेड पेपर ऑफलाइन रसीद ऑनलाइन रसीद मौजूद है तो आप चिंता ना करें आपका जमीन कोई हड़प नहीं सकता है वह जतिन पर कंपाउंड भी किया होगा तो उसे तोड़ दिया जाएगा ।लेकिन बरकट्ठा अंचल अधिकारी निर्मल सोरेन अंचल निरीक्षक मोहम्मद फिरोज अख्तर इस जमीन रिलेटेड पेपर को देखने से कतराते हैं और हमें इस पेपर की छानबीन के लिए बराबर टाइम पर टाइम दिया जा रहा है। मैं जब भी इस पेपर तथा आवेदन को लेकर अंचल अधिकारी निर्मल सोरेन के पास गई तो बराबर बताते हैं मैं देख लूंगा मैं देखता हूं मैं अभी तक नहीं देखा हूं लेकिन जरूर देखूंगा लेकिन वह कब देखेंगे इसका कोई टाइम सीमा बंधा हुआ नहीं है जिसके कारण अगला विपक्षी का मन प्रोत्साहित होते रहता है।इस मामले में अंचल, थाना कोर्ट तथा डीसी सभी लोगों के पास आवेदन दिया हुआ है जो कि इस आवेदन को दिए हुए काफी दिन हो चुके हैं लेकिन इस मामले को अभी तक छानबीन करके नहीं देखा गया है। अगर इस मामले को अच्छी तरह से छानबीन कर के देखा जाता तो किसी आदमी को फर्जी तरीके से जमीन बिक्री करने के लिए एक बार सोचना पड़ता और वह कोशिश भी नहीं करता ‌। लेकिन यह सब मामला कई जगहों पर होता चला रहा है जिससे फर्जी लोगों को फर्जी करने का हिम्मत और हौसला बढ़ते चला रहा है।

Read 93 times