Headlines:

Hottest News

विज्ञापन------------

पूरे देश में पूर्व घोषित बंद के समर्थन मे बरकट्ठा प्रखंड में भाकपा माले और भाकपा के द्वारा किसानों के समर्थन में बरकट्ठा जीटी रोड को जाम किया गया जिसका नेतृत्व भाकपा माले प्रखंड सचिव शेर मोहम्मद और भाकप प्रखंड सचिव आनंद पांडेय ने किया इस बन्दी को बंद करते हुए भाकपा माले प्रखंड सचिव शेर मोहम्मद ने कहा कि भाजपा मोदी सरकार किसानों को फिर से कॉरपोरेट के हाथों गुलाम बनाने कि साजिश रच रही है किसान आत्महत्या कर रहे हैं और मोदी जी एक शब्द भी नहीं बोल रहे हैं सिर्फ अंबानी अडानी की दलाली कर रहे हैं पुरा कोरोना जैसी वैश्विक महामारी और पेट्रोल डीजल और रसोई गैस की बेतहाशा महंगाई यह सरकार दोहरा मार कर रही एक तरफ कोरोना से लोग बेरोजगारी की तरफ बढ़ रहे हैं और यह मोदी सरकार सिर्फ चुनावों में जनता को लोकलुभावन नारों के साथ बेवकूफ बनाने की काम कर रही है केंद्र और राज्य सरकार पेट्रोल डीजल परकर बढ़ाकर लोगों को महंगाई की ओर जबरदस्ती धकेल रहे हैं सरकार अगर किसान के हित में काम करती है तो यह तीनों कृषि बिल वापस लेकर एम एस पी  की घोषणा करें  भाकपा प्रखंड सचिव आनंद पांडे ने कहा कि ब्लॉक में और अंचल में बेहद भ्रष्टाचार बढ़ा हुआ है यहां की जनता रोज दाखिल खारिज बिरधा पेंशन विधवा पेंशन प्रधानमंत्री आवास के लिए रोजाना चक्कर लगा रहे हैं अधिकारी सिर्फ पैसे की बात करते हैं आने वाले दिनों में इसका जबरदस्त विरोध किया जाएगा इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से दिवाकर मोदी किशन मोदी मेघ लाल पासवान महेश पासवान जुमराती मियां जोधन मोदी  मोहन नायक छोटी साव एवं दर्जनों लोग उपस्थित थे I

 

बरकट्ठा:- बरकट्ठा प्रखंड के ग्राम गंगपांचों में तेल पेराने की मशीन से एक महिला की हाथ काट कर अलग हो गई। ग्राम कपका निवासी सविता देवी उम्र 40 वर्ष पति अर्जुन राम तेल पेराने ग्राम गंगपांचो स्थित मिल गई थी। जो की मशीन में लापरवाही बरतने से उनकी दाहिना हाथ कट कर अलग हो गई। जिसके पश्चात ग्रामीणों ने दर्द से कराहती महिला को बरकट्ठा सरकारी अस्पताल ले गए। चिकित्सकों ने महिला की गंभीरअवस्था देखते हुए बेहतर इलाज के लिए तुरंत हजारीबाग रेफर कर दिये।

बरकट्ठा:- बाज़ार रोड बुढ़िया माता मंदिर समीप ज्योतिष्णा ब्यूटी पार्लर का उद्दघाटन किया गया। ब्यूटी पार्लर का  उद्धघाटन बरकट्ठा उत्तरी पंचायत के ग्राम प्राधान बसंत साव ने फीता काटकर किए।इस अवसर पर बसंत साव ने कहा कि इस तरह के ब्यूटी पार्लर खोले जाने से महिलाओं को बाहर नही जाना पड़ेगा।महिलाओं को अपने ही क्षेत्र में रूप सौंदर्यीकरण समेत फेस क्लीनिंग,ब्लीचिंग,हेयर कटिंग की सुविधा प्राप्त हो सकेगा।आधुनिक दौर में महिलाओं के लिए प्रसाधन  सामग्री की मांग बढ़ गई है।इसी को लेकर ब्यूटी पार्लर का प्रचलन जोरो पर है।ब्यूटी पार्लर खोलने से महिलाएं स्वरोजागर से जुड़ती है।जिससे महिलाएं आत्मनिर्भर के साथ महिला सशक्तिकरण की ओर उन्मुख होते है।मौके पर कालीचरण प्रसाद,कमलेश गुप्ता,शंभु यादव,दीपक सोनी,प्रिंस गुप्ता समेत अन्य लोग शामिल थे।

 

बरकट्ठा प्रखंड मुख्यालय में बेलकप्पी आजीविका महिला संगठन का गठन किया गया ।इस कार्यक्रम में बेलकप्पी संकुल स्तर के संगठन में  शिलाडीह, बेलकपी, गोरहर ,बरकट्ठा की कई महिलाओं ने आज के बैठक में भाग लिया। इस कार्यक्रम में आज के मुख्य अतिथि जिप सदस्य मीना देवी ने कहा कि यह सखी मंडल महिलाओं के लिए वरदान है,आप सभी इस संगठन से जुड़े और अपना विकास करें। महिलाओं मे संगठन का नेतृत्व करने की क्षमता है,यह कार्यक्रम से साबित हो गया है, जिस तरह अन्य प्रखंडों से आकर दीदी लोग स्थानीय महिला को प्रशिक्षण दे रहें हैं,इसी तरह आप भी संगठन से जुड़कर बौद्धिक तथा आर्थिक विकास  कर सकते हैं,सभी को मौका मिला है।अपने घरेलू कार्य को निपटाते हुए समय पर ग्राम पंचायत तथा संकुल स्तर के संगठन की बैठक में भाग लें। लगातार बैठक मे शामिल होगी तो, निश्चित रूप से यह संगठन एक आर्थिक कारोबार का बड़ा सहयोगी बनेगा। प्रखंड विकास पदाधिकारी कृतिबाला लकडा ने कहा कि ग्राम संगठन महिला सशक्तिकरण का कार्य करती है। बेहतर आजीविका के लिए समान रुप से अवसर प्रदान करती है, वही दीदी बाड़ी तथा आम के बागवानी पर विशेष रूप से जोड़ दिया गया है। आज के कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्रखंड विकास पदाधिकारी कृति बाला लकड़ा, डीएम रवि कुमार , भाजपा नेता केदार साव ,बीपीएम देव कुमार, डीएपी सलाई कुमार ,सीसी अरुण मेहता, आईपीआरपी सरस्वती देवी, सीएलएफ अध्यक्ष नीलम हेंब्रोम ,सचिव सोनिका कुमारी, कोषाध्यक्ष रानी देवी, उपाध्यक्ष प्रमिला देवी ,उपसचिव ललिता देवी के साथ-साथ कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।

बरकट्ठा पंचायत के गोरहर ग्राम पहाड़पुर में भारत जकात मांझी परगना महल ने बैठक की। बैठक की अध्यक्षता समाजसेवी मनिलाल सोरेन एवं संचालन सहादेव मरांडी ने किया। इस बैठक में आगामी तीन और चार अप्रैल को वार्षिक सम्मेलन आयोजित होने वाली कार्यक्रम को सफल बनाने को लेकर चर्चा की गई। मौके पर मनिलाल सोरेन ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि धर्म और समाज सांस्कृतिक सभयता को बचाने के लिए सुरुजकुणड धाम परिसर मे की जाएगी। इस कार्यक्रम में सभी संथाल समाज से अपील की जाती है की अधिक से अधिक संख्या में पहुंचे। मौके पर प्रखण्ड अध्यक्ष रामजी बेसरा ने कहा कार्यक्रम में झारखंड राज्य के अलावा ओडिशा, बंगाल, आसाम, बिहार समेत अन्य राज्य के लोग शामिल होंगे। इस बैठक में प्रखण्ड सचिव मनोज मुर्मू, प्रखण्ड कोषाध्यक्ष दिनेश बासके, वार्ड सदस्य मंजु देवी, वार्ड सदस्य रुपनी देवी, समाजसेवी सुखदेव बासके, कन्हैया बेसरा, अर्जुन बेसरा, प्रयाग मांझी, मोहन बासके, रुपलाल बासके, शितल बासके, लक्षण हेमरोम, तालो बासके, लालजी बासके, गणेश बासके, नुनवा बासके, बाबुन बासके, सुंदर बासके, बाबुलाल बासके, बलेशवर बासके, हरिलाल बासके, शिबु बासके, दिनेश मांझी ,रविलाल मुर्मू समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे।

देश में कांग्रेस का भविष्य इस विषय पर शब्बीर हुसैन ने कहा कि कांग्रेस ने स्वतंत्रता के बाद से शासन करते आ रहा है पर सभीओर से देश की आर्थिक सामाजिक राजनैतिक नुकसान ही पहुंचाया। देश समरसता में जहर घोलकर सम्प्रदाय वाद और परस्पर विवाद को जन्म दिया। वहीं रंजीत मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस के काल में बेरोजगारी कालाबाजारी को पनपने का मौका मिला यदि एक ऐसा नेता देश को मिला है जो देश को आगे बढ़ाने के लिए प्रयास रत है उसे हमेशा नीचा दिखाने की कोशिश में लगा हुआ है इसलिए कांग्रेस पतन की ओर जा रहा है। कुछ इसी तरह की बातें राजेश राय ने भी कहा कि कांग्रेस अपनी करनी से रसातल की ओर जा रहा है विपक्ष के प्रति हमेशा खराब व्यवहार झूठा प्रचार गलत आरोप प्रत्यारोप यह कांग्रेस का स्वभाव बन गया है। कौशल जायसवाल ने बताया कि कांग्रेस केवल एक परिवार की पार्टी बनकर रह गई है। भ्रमजाल फैला कर लोगों में विद्वेष फैलाना ही इस पार्टी का काम है। विश्वरुप वनर्जी ने बताया कि कांग्रेस में नेताओं का अभाव हो गया है। येलोग आपस में ही झगड़े में लिप्त हैं। इस पार्टी के बड़े-बड़े नेता अब विपक्ष का गुणगान करने लगे हैं। बेरोजगारी भ्रष्टाचारी इसी पार्टी की देन है। अतः कांग्रेस का पतन होना सम्भव है क्योंकि अभी तक ऐसे विपक्ष से पाला नहीं पड़ा था।

अंतर जातीय-विवाह का अर्थ होता हैं कि अपने जाति को छोड़ कर किसी अन्य जाति में विवाह करना। वर्तमान समय में लोगों में इस विवाह की प्रतिक्रिया में काफी बदलाव देखने को मिला है। ऐसा इसलिए हुआ हैं क्योंकि इस समय में लोगों ने अपनी इच्छा से शादी करने और हमसफ़र-साथी खोजना शुरु कर दिया हैं। अक्सर अंतर जाति-विवाह प्रेम से ज्यादा संबधित होती हैं। अगर देखा जाए तो अंतर जाति-विवाह की जब भी बात आती हैं तो लोगों में एक अलग ही सा विचार और पारदर्शिता देखने को मिलता हैं। जब कोई भी विवाह अंतर जातीय होती हैं तो इस विवाहित जोडो को बहुत सी समस्याओं को सामना करना पड़ता हैं जैसे- समाज से दूरी, अपने घर से दूर व्यवहार, समाज को आपके और आपके परिवार को हीन भावना से देखते है।जैसे कि आदिकाल में लोगों में अंतर जातीय विवाह करने वाले लोगों को समाज और अपने ही घर से दूर कर देते ताकि इनका गलत प्रभाव दूसरे पे न पड़। उस समय भले ही अंतर जातीय विवाह में कमी देखने को मिलती थी,किंतु दहेज प्रथा जो समाज में ज्यादा देखने को मिलता था। और हम कहे सकते है कि अंतर जातीय विवाह बढ़ने का यह मुख्य करना हो सकता हैं। भारतीय संस्कृति दुनिया की सबसे पुरानी संस्कृति है। इस देश में हमें हमेशा से अपनी संस्कृति से जुड़े रहने और उसका सामना करने का गर्व प्राप्त होते आ रहा हैं। क्योंकि हमारी संस्कृति हमेशा से कुछ ना कुछ सिखाते आ रही हैं।   अंतर जातीय-विवाह से हमारी संस्कृति पे बहुत ज्यादा ही असर पड़ा हैं। देखा जाए तो इस अंतर जातीय-विवाह से लोगों को अपनी संस्कृति से विश्वास उठते जा रहा हैं। कुछ लोगों की वजह से हमारी संस्कृति का मान और सामना खतरे में दिखाई देने लगा हैं, क्याकि उनको न ही तो अपने समाज की और न ही अपनी संस्कृति पर नही विश्वास और नहीं कोई फ़क़ीर हैं। इस विवाह से समाज भी इसलिए गलत मानते हैं क्याकिं इस उनको अपने समाज में अपने जाति, धर्म, ऊँच—नीच,  जोकि उनको समाज में एक अच्छा दर्जा नहीं दिलता हैं। उदाहरण तौर पर हमकहें सकते है कि --- जब कोई विवाहत जोड़ी अपनी जाति या धर्म को छोड़ कर किसी भी अन्य जाति या धर्म से विवाह करता है तो हम इसे अंतर जातीय-विवाह कहते है। पर उसके बाद उसे अपना जाति या धर्म को भुलाना पड़ता है, क्योंकि हमारे जो हमसफ़र है उस अपनी जाति, धर्म और विचार माने वाले है। और उनको नहीं भी पंसद होने के कारण उनको ये पंसद करना पड़ता है और धीरे-धीरे वे अपनी संस्कृति को भुलते जाते है।

बरकट्ठा प्रखंड के विभिन्न क्षेत्रों तथा स्थानों पर साइबर अपराध दिनोंदिन फल फूल रहा है।इस पर पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है, इसके बावजूद भी साइबर अपराधी कम नही हो रहा है। ऐसा ही मामला पुलिस को गुप्त सूचना बुधवार को फिर मिली। थाना प्रभारी राजेन्द्र महतों ने टीम गठित कर विशेष छापामारी अभियान चलाया। जिसमें संदीप प्रसाद उर्फ दीपक प्रसाद 19 वर्ष पिता स्वर्गीय सुरेंद्र महतो साकिन कपका टोला बेलाटांड़ थाना बरकट्ठा जिला हजारीबाग जो एक साइबर अपराधी है, अपने मोबाइल से अवैध रूप से स्कॉक्का एस्कॉर्ट सर्विस वेबसाइट के माध्यम से कई लोगों को अलग-अलग नंबरों से संपर्क कर व्हाट्सएप के जरिए लड़कियों महिलाओं का आपत्तिजनक तस्वीर भेजकर उनसे सर्विस दिलाने के नाम पर ठगी करता है। छापेमारी के दौरान संदीप प्रसाद उर्फ दीपक प्रसाद एवं रंजीत प्रसाद दोनों पिता स्वर्गीय सुरेंद्र महतो को पकड़ा गया। दोनों लड़कों के पास से बरामद मोबाइल को पुलिस ने जांच किया। जांच के दौरान संदीप प्रसाद उर्फ दीपक प्रसाद के मोबाइल से लड़कियों का सर्विस दिलाने के नाम पर मैसेज कर आपत्तिजनक फोटो डालकर पैसा ठगने से संबंधित चैटिंग की पुष्टि हुई है। दोनों से  पूछताछ किया गया जिसमें संदीप प्रसाद अपना अपराध स्वीकार किए। इस संदर्भ में बरकट्ठा थाना कांड संख्या 44/2021 दिनांक 3/03/ 2021 धारा 420 /358 भादावी एवं 66c /67 आईटी एक्ट के अंतर्गत कांड अंकित किया गया ।गिरफ्तार प्राथमिकी अभियुक्त संदीप प्रसाद उर्फ दीपक प्रसाद उम्र 19 वर्ष को विधिवत न्यायालय में हजारीबाग न्यायालय भेजा गया एवं पूछताछ हेतु लाए गए रंजीत प्रसाद पिता सुरेंद्र महतों ग्राम कपका टोला बेलाटंड निवासी का किसी भी प्रकार का ठोस साक्ष्य नहीं मिलने पर इन्हें पीआर बांड पर मुक्त किया गया। बरामद में दो ओप्पो कंपनी का मोबाइल बरामद किया गया।

Page 1 of 17